Ads Right Header

PopAds.net - The Best Popunder Adnetwork

आमिर लड़के ने धोखे से चोदा , amir ladke ne dhokhe se choda

हेल्लो दोस्तो, आज मैं आपको अपने विषय में कुछ सुनाने जा रहा हूँ | इस कहानी को सुनने के बाद आप बेहद आनन्दित हो जाएंगे | ये एक असलियत वाली कहानी है इसमें झूठ बिलकुल नहीं है | मैं अपनी कहानी आप लोगो को आज इसलिए सुना रहा हूँ क्योकि आप लोग किसी भी लड़की के पीछे भागना छोड़ दो | मैं एक लड़की को पसन्द करता था लेकिन वो मुझे पसन्द नही करती थी | मैंने उस लड़की के लिए अपना सब कुछ छोड़ दिया था | परुन्तु वो लड़की मुझ से इसलिए चुदाई का सम्बन्द बना रही थी क्योकि उसे रुपया कमाना था | वैसे तो लोग रुपये कमाने के लिए कार्य करते है लेकिन उस लड़की ने मुझ से एक खेल खेला था ताकि वो मुझसे पैसा कमा सके | उस लड़की ने मुझ से एक खेल रचा था जिसमे मैं फस चुका था | मैं एक दिन अपने शहर में घुमने के लिए गया हुआ था तभी मुझे एक लड़की सामने से आती हुई दिखी | मुझे अचम्भा हुआ क्योकि वो लड़की बिना रुके मेरे पास आ रही थी | फिर उसके बाद वो मुझे को देखकर हसने लगी | उस दिन मेरे लिए वो समय चकित करने वाला था क्योकि मुझे एक लड़की देख रही थी और हस रही थी | फिर वो एक जगह पर बैठ गयी | मैं भी उस लड़की को देखने लगा | मुझे कुछ मालूम नही था की क्या हो रहा है | मैं अपनी उत्सुखता की वजह से उस लड़की को देखने लगा | लेकिन ये तो उस लड़की का एक खेल था | उस लड़की ने मेरे विषय में सब कुछ पहेले से मालूम कर लिया था | मैं एक ऐसा लड़का हूँ जिसने विदेश जा कर अपना भविष्य उज्वल किया है | भविष्य को उज्वल करने के लिए मैंने कड़ी महनत भी की है | बिना कड़ी महनत के कुछ भी सम्भव नही होता है | विदेश का रहन सहन काफी शानदार है | विदेश में रहने वाली लडकिया सुन्दर होती है | इसलिए उनकी सुन्दरता के कारण मैंने विदेश में नौकरी करना शुरु किया था |
मैं जब विदेश में रहता था | तो वहां पर रहने वाली लडकियो को देखने के लिए समुद्री किनारे पर जाया करता था | समुद्री किनारों पर लडकियां आया करती थी | लडकियो का पहनावा मुझे भाता था | लडकिया छोटे कपडे पहनकर आया करती थी खासकर जब वो समुद्री किनारो पर आया करती थी | वैसे तो समुद्री किनारे घुमने के लिए एक शानदार जगह है इसके आलावा लडकियो को देखने के लिए भी एक लाजवाब जगह है | लोग दूर से समुद्री किनारे पर घुमने के लिए आया करते थे | और लडकियां समुद्र का लुफ्त उठाने के लिए कपडे उतार देती थी | सिर्फ ब्रा और चड्डी पहनकर वो किनारो पर घूमा करती थी | उन लडकियो से मुझे दोस्ती करने की उत्सुकता होती थी | मैंने कुछ लडकियो से आसानी से दोस्ती भी कर ली थी | मैंने जब कुछ लडकियो से दोस्ती कर ली तो मुझे उन्हे चोदने के लिए अलग बहाना तैयार करना पड़ता था | मैं तरकीब तलाश किया करता था ताकि मैं लडकियो को सरलता से चोद सकूँ | मैं लडकियो का शौक़ीन हूँ | इसलिए अपना वक्त लडकियो को देखने में लगाया करता था | लडकिया भी मुझे देखने में रूचि लेती थी क्योकि मैं एक ऐसा लड़का हूँ जिसका शारीर लम्बा है और मेरा शारीर किसी एक्टर के जैसा लगता है | मैं बचपन से ही एक्टर बनने में लगा रहता था इसलिए मैं रोजाना कसरत किया करता था | क्योकि अगर आपको किसी फिल्म के जैसा एक्टर बनना है तो आपका शरीर लम्बा और आकर्षित देखने में लगे | वैसे कुछ लोग जो आज फिल्मो में कार्य कर रहे है उनकी उचाई कम है लेकिन फिर भी वो फिल्मो में कार्य कर रहे है | मुझे फिल्मो का सौक था इसलिए मैं रोजाना कसरत किया करता था | मैं सुबह उठकर घूमने के लिए जाता था | मेरा बचपन अपने शारीर को तैयार करने में लगा था | जब मेरे उपर घर की जिम्मेदारी आ गई तब मैंने एक फैसला किया की मैं अपने भविष्य को विदेश में बनाने वाला हूँ | विदेश में रहना मेरे लिए हमेशा एक बड़ी उपलब्धि रही है और रहेगी क्यूंकि पैसे और इज्ज़त दोनों मिल गई और घर वाले भी खुश | मैं जब विदेश में रहता था तब मैंने एक लड़की को पटाया था जो उस अपार्टमेन्ट में रहती थी जिस अपार्टमेन्ट में मैं रहता था |
वो मेरे अपार्टमेन्ट की बगल वाले कमरे में रहा करती थी | जिस कंपनी में कार्य किया करता था उस कंपनी में कुछ लडकिया भी नौकरी किया करती थी | मैं नौकरी के बहाने उन लडकियो से दोस्ती करने की कोशिश में लगा रहता था | वैसे तो जिस कंपनी में कार्य करता था वहा पर नौकरी करने वाली लडकियो से मेरी दोस्ती थी पर कुछ ऐसी थी जो भाव खाती थी | मैं उन लडकियो को छुट्टी के बहाने उन्हे होटल चलने का अनुरोध किया करता था | मेरे अनुरोध पर मेरे साथ नौकरी करने वाली लडकिया होटल चलने के लिए तयार हो जाती थी | लडकियो के साथ कुछ लड़के भी मेरे साथ होटल जाया करते थे जो कंपनी में कार्य करते थे | कंपनी में कार्य करने वाली एक लड़की को पटाने के लिए मैंने एक बड़ा सा उपहार दिया और कहानी बनती सी नज़र आई | चूंकि मुझे अपने शहर पर लौटना पसन्द था इसलिए मैं विदेश से छुट्टी लेकर अपने शहर पर आ जाता था पर उन लड़कियों को चोदे बिना | पर एक दिन मौका मिल ही गया क्यूंकि छुट्टी दोनों कि थी और वो मेरे कमरे में थी | मैंने चुदाई करने के लिए पहेले उसके दूध को दबाना शुरु किया | दूध को दबाना मुझे पसन्द है इसलिए मैंने उस लड़की के दूध को बहुत देर तक दबाया और फिर मैंने उस लड़की की शर्ट खोली और फिर उसके ब्रा को खोलकर मैंने उसके दूध को पीना शुरु किया | दूध पीकर जब थक गया तब मैंने उसकी चूत में उंगली डाल दी | मैं उसकी चूत को अपनी उंगली से चोद रहा था | चूत में उंगली डालने कि वजह से उसकी चूत चौड़ी हो गयी और फिर मैंने उसकी चूत को अपने हाथों से रगड़ना शुरु किया | हाथो से रगड़ने के बाद मैंने उसको पूरा नंगा कर दिया | जब वो पूरी नंगी हो गयी तब मैंने उसकी चूत में अपना गरमा गरम लंड अन्दर घुसेड दिया और वो चीखने लगी | लेकिन वो कह रही थी तुम बढ़िया चोद रहे हो | चुदाई का मकसद मेरा उस दिन पूरा हो चुका था | मेरा सम्बन्द उस लड़की से करीब 3 साल तक चला और फिर उस लड़की की शादी एक विदेश में रहने वाले एक सुन्दर से दिखने वाला एक लड़के से हो गयी | आज भी वो मुझे मिलती है और मैं उसके पति से बचकर उस लड़की से मिलता हूँ | उसके पति को मालूम है मेरा सम्बन्द उस लड़की से करीब तीन साल तक चला है | असलियत तो ये थी की वो लड़का भी विदेश के उस शहर में रहता था जहा पर मैं रहा करता था | वो उस शहर में एक व्यवसाय करता था |
उस लड़की का पति मेरा मित्र है | जब मैंने उस लड़की से शादी करने के लिए इनकार कर दिया था तब उस लड़की से उस लड़के ने शादी की | वो लड़का शादी करने के लिए एक लड़की की तलाश में था | जब मैंने उस लड़की से शादी करने से इनकार कर दिया तो उस लड़की ने मुझ से दूरी बनाना शुरु कर दिया | वो लड़की मुझ से मिला करती थी लेकिन मुझे चुदाई करने के लिए उसकी लाल चूत नही देती थी | तब मुझे मालूम चला की वो किसी और लड़के से शादी करने वाली है | उस लड़की ने मुझसे फिर पूछा कि मैं किसी लड़के से शादी करने वाली हूँ | क्या तुम मुझसे शादी करने के लिए तैयार हो ? तब मैंने उसे जवाब दिया कि मैं अभी शादी करने के लिए तैयार नही हूँ | कुछ साल बाद उस लड़की ने मेरे एक मित्र से शादी कर ली जैसा मैंने आपको बताया | जब उस लड़की की शादी हो रही थी तब मैं उस लड़की की शादी में शामिल हुआ उस दिन मैंने उसके लिए एक लाजवाब उपहार लिया था | छुट्टी होने पर मैं अपने शहर घुमने के लिए आया हुआ था जब मैं अपने शहर में घूम रहा था तब मैंने एक लड़की को अपनी तरफ आते हुए देखा | उस लड़की के विषय में पहचानने के लिए मैं भी उस लड़की को देखने लगा था | अगले दिन वो लड़की मुझे एक ठेले वाले के सामने मिली जब मैं ठेले वाले के पास समोसा खा रहा था | मुझे समोसा खाना पसन्द है इसलिए मैं उस दिन दो समोसे खा रहा था |
वो लड़की मेरे पास आकर समोसा खाने लगी | मेरे देश में बना हुआ समोसा सार्वाधिक स्वादिस्ट होता है | मैं जब विदेश में रहता था तब मैं वहा पर भी समोसा खाया करता था लेकिन वो बात कहाँ आप को भी पता ही होगा | वैसे तो समोसे का स्वाद उसके बनाने वाले के उपर होता है | जब वो लड़की समोसा खा रही थी तब वो मुझे घूर रही थी | जब वो मुझे घूर रही थी तब वो मुझे देखकर हस रही थी | उसके हसने पर मैं भी उसे देखकर हस रहा था | फिर उस लड़की ने मुझ से पूछा की तुम क्यों हस रहे हो | तब मैंने उसे जवाब दिया की मैं आपको देखकर हस रहा हूँ | उस लड़की ने मुझ से कहा की क्या आप भी उस नगर में रहते है जहा पर मैं रहती हूँ | मैंने उसे अपने शहर में पहली बार देखा था | वो लड़की किसी उदेश्य से मेरे पास आई थी ताकि वो मुझ से दोस्ती कर सके | जब उसने मुझ से दोस्ती कर ली तब उसने फिर उसकी अगली चाल चली | ये लेकिन कोई ऐसी वैसी चाल नही था | क्योकि उसकी चाल चुदाई के ऊपर थी | वो मुझे कुछ दिन के बाद गले लगाने लगी | वो जब मुझे गले लगाती थी तब मुझे लगता था की वो मेरी हमसफर बनने को तैयार है | जब उसने हमसफर बनने का वादा किया तो मैंने उस पर खर्च करना शुरु कर दिया था | वो मुझ से काफी पैसे कमा चुकी थी | उस लड़की का मकसद था की वो मुझ से सब कुछ लेले | लेकिन रुपय कमाने के लिए उसने उसका सबसे बड़ी चाल चली थी वो मुझ से चुदवाने के लिए तयार थी | जब मैं उस लड़की को चोदने के लिए तैयार था | तब मैंने पहेले उसके कपडे उतारे | वो पूरी नंगी थी और मैंने फिर उसकी चूत में अपना लंड घुसेड दिया | मेरा लंड उसकी चूत में ऐसे घुस रहा था जैसे कोई गीला गड्ढा हो उसकी चूत नर्म थी और मेरा लंड उसके अन्दर भीतर तक घुस रहा था | मैं जब अपना लंड उसकी चूत में डाल रहा था तब मैं आह आह चिल्ला रहा था और वो भी आह आह कह रही थी | उसकी चूत में घोसले जैसे बाल भी उगे हुए थे | उसकी चूत के घोसले के बाल झड़ रहे थे जब मैंने उसकी चूत के बालो को अपने हाथो से पकड़ा | फिर मैंने उसकी चूत में अपना लंड डालकर उसको चोदता रहा | कुछ देर तक चोदने के बाद मेरे लंड से वीर्य निकल आया और मैं थक गया |
Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

Ads Atas Artikel

Ads Tengah Artikel 1

Ads Tengah Artikel 2

Ads Bawah Artikel